4. लोकतंत्र की उपलब्धियाँ ( लघु उत्तरीय प्रश्न )

Bihar Board ( BSEB ) PDF

1. लोकतंत्र से आप क्या समझते हैं ?

उत्तर- लोकतंत्र का अर्थ जनता का शासन होता है। इसमें जनता के प्रतिनिधियों के माध्यम से शासन का संचालन किया जाता है। लोकतंत्र दो प्रकार के हैं—प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष।


2. तानाशाही सरकार में जनता अपने प्रतिनिधियों के कार्यों का सही – मूल्यांकन नहीं कर पाती। स्पष्ट करें।

उत्तर- तानाशाही सरकारें जनता के द्वारा चयनित नहीं होती। वे जनता की आवाज को दबाकर रखती हैं। जनता में असंतुष्टी व्याप्त होती है। किसी तानाशाही सरकार की व्यवस्था का सही मूल्यांकन जनता नहीं कर पाती है।


3. प्रत्यक्ष लोकतंत्र किसे कहते हैं ?

उत्तर- जिसमें जनता स्वयं शासन में भाग लेती है, प्रत्यक्ष लोकतंत्र कहलाता है।


4. लोकतांत्रिक सरकारें लोकप्रिय क्यों हैं ?

उत्तर-इसके दो सबसे प्रमुख कारण हैं
(i) जनता को मौलिक अधिकार की प्राप्ति।
(ii) सरकार का चुनाव स्वयं जनता द्वारा होती है।


5. भारतवर्ष में लोकतंत्र कैसे सफल हो सकता है ?

उत्तर- भारतीय लोकतंत्र विश्व का सबसे बड़ा एवं सफल लोकतंत्र है। यह और भी सफल हो सकता है यदि शिक्षा का समुचित प्रसार एवं आम जनता के बीच . इसकी महत्ता की जागृति पैदा की जाए। जनता की जागरूकता के विकास से ही भ्रष्टाचार पर लगाम लगाया जा सकता है। कार्यों में प्रगति भी इसी पर निर्भर करती है।


6. लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था में फैसले किस प्रकार लिए जाते हैं ?

उत्तर- जब लोकतांत्रिक शासन-व्यवस्था में कोई माँग उठती है तब सरकार उचित माँग पर विचार करती है। संबंधित विभाग अथवा मंत्रालय द्वारा आवश्यक नीति अथवा कार्यक्रम बनाये जाते हैं, तत्पश्चात् इसे कैबिनेट के समक्ष विचार के लिए रखा जाता है। कैबिनेट के द्वारा पास होने के बाद नीतियों एवं कार्यक्रमों को लागू किया जाता है।


7. भारतीय लोकतंत्र के किन्हीं चार गुणों का वर्णन करें।

उत्तर- भारतीय लोकतंत्र के चार गुण इस प्रकार हैं
(i) भारतीय लोकतंत्र द्वारा कल्याणकारी राज्य की स्थापना की गई है जिसमें  सबों की अधिकतम भलाई होती है।
(ii) जनता में राजनीतिक जागृति उत्पन्न होती है।
(iii) भारतीय लोकतंत्र समानता का पोषक है। भारतीयों में जाति, वंश, रंग, धर्म, लिंग इत्यादि के आधार पर भेदभाव नहीं किया जाता है। कानून के समझ सभी नागरिक बराबर हैं।
(iv) भारतीय लोकतंत्र में लोगों में राष्ट्रभक्ति की भावना विकसित होती है।


8. भारतीय लोकतंत्र की किन्हीं चार समस्याओं का वर्णन करें।

उत्तर- भारतीय लोकतंत्र की चार समस्याएँ निम्नांकित हैं

(i) भारत में शिक्षा का अभाव है जिससे यहाँ की जनता अपने अधिकार और
कर्त्तव्य के प्रति सचेत नहीं रहती।
(ii) हमारे देश में सामाजिक समानता की जगह जाति, धर्म, ऊँच-नीच का भेदभाव अधिक है।
(iii) भारत की जनता मतदान के महत्त्व को नहीं समझती है। अत: मतदान का दुरुपयोग होता है।
(iv) भारत में आर्थिक समानता का अभाव है। आर्थिक समानता के बिना राजनीतिक स्वत्रंतता बेकार है।


9. लोकतंत्र में सत्ता संचालन जनता का प्रतिनिधित्व द्वारा होता है, कैसे ?

उत्तर- चुनाव में विभिन्न दलों द्वारा एक सदस्य को मैदान में उतारा जाता ह। इसमें जनता अपने पसंद के अनुसार प्रतिनिधि का चनाव करती है जो इनका नतृत्व संसद अथवा विधानसभाओं में करते हैं। इस प्रकार परोक्ष रूप से जनता ही अपन लिए अपने प्रतिनिधियों के माध्यम से सरकार का गठन करती है।


10. लोकतंत्र की सबसे बड़ी कमी क्या है ?

उत्तर- लोकतंत्र में लिए गए फैसले विभिन्न स्तरों से होकर गुजरता है, जिसम काफी समय बर्बाद हो जाता है। कभी-कभी तो इस प्रक्रिया में इतना समय लग जाता है कि वह निर्णय अप्रासंगिक हो जाते हैं। भारतीय लोकतंत्र में दलगत बुराइयों भा बढ़ गई है।


11. लोकतांत्रिक व्यवस्थाएँ किस प्रकार अनेक तरह के सामाजिक विभाजनों को संभालती हैं? उदाहरण के साथ बतावें।

उत्तर- लोकतंत्र में सामाजिक-आर्थिक विषमताएँ, जैसे ऊँच-नीच, गरीब-अमीर, स्त्री-पुरुष आदि मौजूद रहती है। इनके बावजूद लोकतंत्र में व्यक्ति को बराबरी का अधिकार होता है, विकास का समान अवसर देता है। कमजोर वर्ग को विकास के लिए आरक्षण और विशेष सहायता एवं सुविधा देकर विषमता को कम करने की कोशिश करता है। यह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता देकर आपसी संबंध कायम करता है। इससे समाज में पारस्परिक विश्वास एवं सामंजस्य उत्पन्न होता है।


12. लोकतंत्र किस प्रकार के लोगों के लिए उत्तरदायी है, अपना विचार प्रकट करें।

उत्तर- लोकतंत्र एक उत्तरदायी शासन व्यवस्था है। इसमें जनता ही शासकों का चयन करती है तथा उनपर नियंत्रण रखती है। इसके लिए आवश्यक है जनता की सत्ता में अधिक से अधिक भागीदारी हो। लोकतंत्र में ऐसी व्यवस्था की जाती है कि शासक जनता की आकांक्षाओं और आवश्यकताओं का ध्यान रखे। लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था में निर्णय लेने में भले ही देर हो, लेकिन गलत निर्णय की संभावना कम रहती है। इससे. लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था और भी अधिक उत्तरदायी बन जाती है।


13. लोकतंत्र जनता का, जनता के द्वारा तथा जनता के लिए शासन है। कैसे ? या लोकतंत्र से आप क्या समझते हैं ?

उत्तर- लोकतंत्र शासन का वह रूप है जिसके शासन की संपूर्ण शक्ति जनता में निहित रहती है। दूसरे शब्दों में लोकतंत्र उस शासन व्यवस्था को कहते हैं जहाँ जनता शासन कार्य में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से भाग लेती है। शासन जनता की इच्छाओं तथा आकांक्षाओं के अनुरूप संचालित होता है। अत: लोकतंत्र जनता द्वारा संचालित, जनता का एवं जनता के लिए शासन है। .


14. लोकतंत्र समानता और स्वतंत्रता पर आधृत शासन है। कैसे ?

उत्तर- समानता और स्वतंत्रता, लोकतंत्र के दो आधार हैं। समानता का सिद्धांत जाति, धर्म, वंश, लिंग, भाषा क्षेत्र जैसे किसी भी आधार पर व्यक्ति के विभेद को , अस्वीकार करता है। इसकी जगह कानून के समक्ष समानता, समान अवसर, समान
संरक्षा की स्थापना करता है। स्वतंत्रता के अन्तर्गत सभी व्यक्तियों को समान स्वतंत्रता प्रदान की जाती है जिसमें भाषण एवं अभिव्यक्ति, संघ-संगठन बनाने, पेशा, व्यवसाय चुनने, मताधिकार आदि शामिल हैं।


15. लोकतंत्र सर्वोत्तम शासन-प्रणाली है। कैसे ?

उत्तर- लोकतंत्र सर्वोत्तम शासन-प्रणाली है क्योंकि यह जनमत पर आधृत शासन प्रणाली है। -यह लोकप्रिय एवं स्थायी शासन प्रदान करती है। यह व्यक्ति की गरिमा में वृद्धि करती है। इसमें मतभेदों में सामंजस्य की संभावना रहती है।


16. लोकतंत्र में मुख्य आकर्षण बिंदु क्या है ?

उत्तर- प्रत्येक लोकतांत्रिक सरकार अपनी जनता को कुछ मौलिक अधिकार जैसे समानता का अवसर, व्यक्ति की स्वतंत्रता, व्यक्ति की गरिमा इत्यादि प्रदान करता है। यही लोकतंत्र के आकर्षण का मुख्य बिन्दु बनता है।


17. लोकतंत्र की सबसे बड़ी विशेषता क्या है ?

उत्तर- सरकार का संचालन जनता द्वारा चुने गए प्रतिनिधियों के माध्यम से होता है एवं नागरिकों को मौलिक अधिकार प्राप्त होते हैं।


18. अल्पमत से क्या अभिप्राय है? .

उत्तर- जब चुनाव में राजनीतिक दल को इतना वोट नहीं मिल पाता कि वह सरकार का निर्माण कर सके तो उस स्थिति को अल्पमत कहते हैं।


19 . प्रेस की स्वतंत्रता क्यों आवश्यक है?

उत्तर- प्रेस के माध्यम से ही जनता अपने द्वारा चुने गये प्रतिनिधियों एवं सरकार के क्रियाकलापों के बारे में जानकारी प्राप्त करती है। यदि यह स्वतंत्र नहीं होगा तो सही सूचना जनता तक नहीं पहुंच पाएगी।


20. विशेषाधिकार क्या है ?

उत्तर- जब किसी व्यक्ति या व्यक्ति समूह को जनसाधारण की तल अधिक अधिकार या महत्त्व प्रदान किया जाता है तो उसे विशेषाधिकार कहा


21. स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव से आपका क्या अभिप्राय है ?

उत्तर- चुनाव की वह प्रक्रिया जिसमें चुनाव बिना किसी दबाव, पैसे एवं के दुरुपयोग और आपराधिक छवि के लोगों के सहयोग से संपन्न न हो, एवं निष्पक्ष चुनाव कहलाता है। भारत में इसकी जिम्मेवारी चुनाव आयोग की है।


22. प्रत्यक्ष प्रजातंत्र एवं अप्रत्यक्ष प्रजातंत्र में अंतर स्पष्ट करें।

उत्तर- प्रत्यक्ष प्रजातंत्र में जनता शासन कार्य में सीधे भाग लेती है। अप्रत्या प्रजातंत्र शासन का वह रूप है जो जनता के प्रतिनिधियों द्वारा चलाया जाए।


23. सिविल सोसायटी क्या है ? 

उत्तर- सिविल सोसायटी का अर्थ है—गैर-सरकारी संगठन जैसे—सहकारी. व्यवसायिक एवं कर्मचारी संगठनों तथा वे व्यवस्थित संस्थानों जो राज्य एवं परिवार के बीच एक कड़ी का काम करते हैं। सिविल सोसायटी राज्य के शक्तियों पर नियंत्रण रखने, लोगों को लोकतांत्रिक तरीकों से जागरूक बनाने, मानवाधिकार की रक्षा करने, भ्रष्टाचार को समाप्त करने इत्यादि के लिए कार्य करती है।


24. उत्तरदायी एवं वैध शासन किसे कहते हैं ?

उत्तर-वयस्क मताधिकार के आधार पर चुनी गई सरकार जो जनता के प्रति उत्तरदायी हो वैसी शासन-व्यवस्था को वैध एवं उत्तरदायी शासन कहते हैं।


25. तानाशाही सरकारों की आर्थिक प्रगति तीव्र होती है, क्यों ? 

उत्तर- लोकतांत्रिक सरकारों के ठीक विपरीत इसमें किसी भी विषय में निर्णय एक ही व्यक्ति द्वारा लिया जाता है। जनता के हितों की उपेक्षा करके सारा ध्यान तीव्र आर्थिक प्रगति पर होता है। यही कारण है कि तानाशाही सरकारों की आर्थिक प्रगति तीव्र होती है। ये प्रगति अपेक्षाकृत कम टिकाऊ होती है।


26. भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है, कैसे ?

उत्तर- भारत में धर्म के आधार पर कोई भेद-भाव नहीं किया जाता। भारतीय संविधान में भी प्रत्येक धर्म को समान आदर दिया गया है। यहाँ हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई सभी के पर्व एक जैसे मनाए जाते हैं।


Geography ( भूगोल ) लघु उत्तरीय प्रश्न 

1 भारत : संसाधन एवं उपयोग
2 कृषि ( लघु उत्तरीय प्रश्न )
3 निर्माण उद्योग ( लघु उत्तरीय प्रश्न )
4 परिवहन, संचार एवं व्यापार
5 बिहार : कृषि एवं वन संसाधन
6 मानचित्र अध्ययन ( लघु उत्तरीय प्रश्न )

History ( इतिहास ) लघु उत्तरीय प्रश्न 

1 यूरोप में राष्ट्रवाद
2 समाजवाद एवं साम्यवाद
3 हिंद-चीन में राष्ट्रवादी आंदोलन
4 भारत में राष्ट्रवाद 
5 अर्थव्यवस्था और आजीविका
6 शहरीकरण एवं शहरी जीवन
7 व्यापार और भूमंडलीकरण
8 प्रेस-संस्कृति एवं राष्ट्रवाद

Political Science  लघु उत्तरीय प्रश्न 

1 लोकतंत्र में सत्ता की साझेदारी
2 सत्ता में साझेदारी की कार्यप्रणाली
3 लोकतंत्र में प्रतिस्पर्धा एवं संघर्ष
4 लोकतंत्र की उपलब्धियाँ
5 लोकतंत्र की चुनौतियाँ

Economics ( अर्थशास्त्र ) लघु उत्तरीय प्रश्न

1 अर्थव्यवस्था एवं इसके विकास का इतिहास
2 राज्य एवं राष्ट्र की आय
3 मुद्रा, बचत एवं साख
4 हमारी वित्तीय संस्थाएँ
5 रोजगार एवं सेवाएँ
6 वैश्वीकरण ( लघु उत्तरीय प्रश्न )
7 उपभोक्ता जागरण एवं संरक्षण

Aapda Prabandhan Subjective 2022

  1 प्राकृतिक आपदा : एक परिचय
Bihar Board ( BSEB ) PDF
You might also like