मानव नेत्र तथा रंगबिरंगा संसार SUBJECTIVE QUESTION PART- 2

मानव नेत्र तथा रंगबिरंगा संसार SUBJECTIVE -2

मानव नेत्र तथा रंगबिरंगा संसार SUBJECTIVE QUESTION PART- 2 Matric Exam 2020 ,Science Subjective Question For Matric Exam 2020 , Science Model Paper 2020 Matric Question 2020 Science Subjective Question 2020


1 . सामान्य नेत्र 25 cm से निकट रखी वस्तुओं को सुस्पष्ट क्यों नहीं देख पाते ?

उत्तर- किसी वस्तु को आराम से सुस्पष्ट देखने के लिए इसे अपने नेत्रों से कम-से-कम 25 cm. (जो कि सुस्पष्ट दर्शन की अल्पतम दूरी है) दूर रखना होता है। अभिनेत्र लेंस की फोकस दूरी एक निश्चित न्यूनतम सीमा से नीचे तक नहीं घट सकती । यदि कोई वस्तु नेत्र के अत्यधिक निकट है, तो अभिनेत्र लेंस इतना अधिक वक्रित नहीं हो पाता कि वस्तु का प्रतिबिम्ब दृष्टि पटल पर बने, जिसके फलस्वरूप परिणामी प्रतिबिम्ब धुंधला-सा बनता है।


2 .तारे क्यों टिमटिमाते हैं ?

उत्तर- जब तारे का प्रकाश पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश करता है तो उसे बढ़ते हुए अपवर्तनांक वाले माध्यम से गुजरना पड़ता है। इसके कारण तारों का प्रकाश लगातार पृथ्वी की त्रिज्या की तरफ मुड़ता जाता है। माध्यम के अपवर्तनांक में अनियमित उतार-चढ़ाव होते रहते हैं, जिसके कारण तारों का प्रकाश कभी हमारी आँखों तक पहुँचता है, कभी नहीं पहुँचता। इसके कारण हमें तारे टिमटिमाते प्रतीत होते हैं।


3 . दृष्टि निर्बध क्या है ? किस प्रकार चलचित्र संभव होता है ?

उत्तर- रेटिना पर बना प्रतिबिम्ब वस्तु के हटाए जाने के 1/10 सेकेण्ड तक स्थिर रहता है। इसे दृष्टि निर्बध कहते हैं । यदि चलचित्र कैमरे द्वारा खींचे गए अचल चित्रों में दृश्यों के क्रम को किसी परदे पर लगभग 24 प्रतिबिम्ब बनाता प्रति सेकेण्ड अथवा इससे अधिक दर पर प्रक्षेपित किया जाए तो प्रतिबिम्बों के क्रमागत प्रभाव निर्बाध रूप से एक-दूसरे में मिश्रित अथवा विलीन होते प्रतीत होते हैं। इस सिद्धान्त से चलचित्र संभव हो पाता है।


4 . स्वच्छ आकाश का रंग हमें नीला दिखाई पड़ता है जबकि किसी अन्तरिक्ष यात्री को काला प्रतीत होता है, क्यों ?

उत्तर – सूर्य का प्रकाश जब वायुमंडल में प्रवेश करता है तब प्रकाश का प्रकीर्णन होता है। लाल रंग का प्रकीर्णन सबसे कम और नीले रंग का प्रकीर्णन सबसे अधिक होता है। रंग के प्रकीर्णन में नीले रंग की अधिकता होती है, इसलिए आकाश का रंग नीला दिखाई देता है। अंतरिक्ष में प्रकाश का प्रकीर्णन नहीं होता है, इसलिए अंतरिक्ष यात्री को आकाश काला दिखाई देता है।


5.  रेलवे के सिग्नल का प्रकाश लाल रंग का ही क्यों होता है ?
उत्तर – रेलवे के सिग्नल में लाल रंग का प्रयोग इसलिए किया जाता है क्योंकि लाल रंग का प्रकीर्णन सबसे कम होता है और लाल रंग अधिक दूरी से भी साफ-साफ दिखलाई पड़ जाती है


6 . निकट दृष्टि दोष एवं दूर दृष्टि दोष में अंतर लिखें |

निकट दृष्टि दोषदूर दृष्टि दोष
1. नेत्र लेंस की फोकस दूरी अधिक हो जाती है1.नेत्र लेंस की फोकस दूरी कम हो जाती है
2.नेत्र गोलक लंबा हो जाता है2.नेत्र गोलक छोटा हो जाता है
3.इस दोष को दूर करने के लिए अवतल लेंस का उपयोग किया जाता है3.इस दोष को दूर करने के लिए उत्तल लेंस का उपयोग किया जाता है

मानव नेत्र तथा रंगबिरंगा संसार SUBJECTIVE – 1
प्रकाश के परावर्तन तथा अपवर्तन SUBJECTIVE – 3
जित-जित मै निरखत हूँ | Hindi Objective
सामाजिक विज्ञान : आपदा प्रबंधन Objective
रासायन विज्ञान कक्षा -10 OBJECTIVE Question

 

error: